• H - songs starting with H

    Har pal ka tu hi hai Khuda
    हर पल का तू ही है खुदा

      हर पल का तू ही है खुदा [C#]हर पल का वो ही है खुदा साँसों का वो ही [Ab]मम्बा बाँहें जो [Ab]फैलाये खड़ा आजा तू क्यूँ [C#]दूर खड़ा चिथड़े [F#]उड़े, कोड़ों [C#]से बाल [F#]सज़े, काँटों [C#]से दाढ़ी [Ab]नुची, हाथों [C#]से आजा [Ab]तू… लहू [F#]लहू, उसका [C#]बदन बक्शा [F#]उसी ने, है [C#]सुखन उसको [Ab]दे तन और [C#]मन आजा [Ab]तू… पाप [F#]बना, तू रास्त [C#]बने इफ्ज़ी [F#]हुआ, कि तू ना [C#]मरे छेदा [Ab]गया, तू जीता [C#]रहे आजा [Ab]तू… Har pal ka tu hi hei Khuda [C#]Har pal ka, wohi hei khuda saanso ka wohi [Ab]mamba [F#]baahen jo [Ab]failaye khara aaja tu kyun [C#]door khara chithre [F#]ude, koro [C#]e baal [F#]saje, kaanto…

  • B - songs starting with B

    Bhej abar rooh ka
    भेज अबर रूह का

        भेज अबर रूह का भेज अबर रूह का – 4 छम छम मेंह बरसा – 4 भेज अबर रूह का – 4 सूखी बंजर दिलों की भूमि रूह अपनी से सींचो रूह-ए-पाक की बूंदे डालो बीज कलाम का बीजो (दोबारा – ऊँचा) मुझे कर दो हरा भरा-4 छम… रूह की अग्नि की भट्टी में झोंक हमें ऐ खुदाया जैसे पिघल के साफ़ हो चांदी ऐसा कर खुदाया (दोबारा – ऊँचा) हमको भी पिघला-4 छम… जैसे फ़ौज फरिश्तों की नबियों के संग रुकता था अपने रूह की ताकत से उन नबियों को भरता था (दोबारा – ऊँचा) उसी रूह का मज़ा चखा-4 छम…   Bhej abar Rooh ka Bhej…