• Hypocrite
    Aatmik Sandesh Blogs,  Thoughts

    Hypocrisy in Christianity

    मसीहीयत में दिखावा | Hypocrisy in Christianity कल जयपुर से दिल्ली गाड़ी चलाते हुए एक विचार मेरे अंदर आया। मैं प्रभु से बात करता आ रहा था और ज़ैक पुनन की सीडी भी गाड़ी में चल रही थी। उन्होंने एक छोटी सी प्रार्थना से वचन को बंद किया। मैं सोच रहा था कि प्रभु से जो हमारा रिश्ता है उसको प्रकट करने के तरीके में बहुत विविधता आ गई है। विविधता अपने आप में कोई गलत चीज़ नहीं है लेकिन एक तरफ भाई ज़ैक जैसे प्रचारक जो बहुत छोटी प्रार्थना करते हैं। और दूसरी तरफ वे जो बहुत लंबी लंबी प्रार्थना करते हैं और जिनके बोलने के तरीके में बहुत…