• A - songs starting with A

    Aanandit raho Prabhu me
    आनंदित रहो प्रभु में

    आनंदित रहो प्रभु में आनंदित रहो [G]आनंदित [C]रहो प्रभु में [D]आनंदित [Em]रहो मैं [C]फिर से कहता [D]हूँ सदा [C]आनंदित रहो[G] [G]जब तुम्हारा मन [C]बोझिल हो [D]चलते चलते [C]थक गये [G]हो [Bm]अपना बोझ [C]प्रभु पर डाल दो [D]उसको है [C]तुम्हारा [G]ख़्याल [G]आनंदित रहो… [G]जब तुम्हारा प्राण [C]व्याकुल हो [D]जीवन में [C]निराशा [G]हो [Bm]रखो अपना [C]भरोसा प्रभु पर [D]जीवन को [C]आनंद से [G]भरेगा [G]आनंदित रहो… [G]जब तुम्हें लोग [C]सताया करें [D]मेरे कारण [C]तुम्हारी निंदा [G]हो [Bm]हिम्मत ना हारो [C]सब कुछ सह लो [D]स्वर्ग में है [C]तुम्हारा बड़ा [G]प्रतिफल [G]आनंदित रहो… Aanandit raho Prabhu mei aanandit raho [G]Aanandit [C]raho Prabhu mei [D]aanandit [Em]raho mai [C]phir se kahta [D]hoon sada [C]aanandit raho[G] [G]jab tumhara…

  • Gospel Tracts

    Satyamev Jayate

    सत्यमेव जयते  सत्यमेव जयते – अर्थात सत्य की सदा जीत होती है। हम इस बात पर विश्वास करते हैं और इसी कारण बहुत से त्योंहार मनाते हैं। कुछ त्योंहारों में हम परस्पर असत्य पर सत्य की विजय को प्रतिबिंबित करते हैं और इसीलिये उत्सव में शामिल होते हैं। हम आनंद मनाते हैं और उससे जुड़े कई तरह के रीतिरिवाज भी पूरे करते हैं। सच तो यह है कि हम चाहते तो हैं कि सत्य की ही अंत में जीत होनी चाहिये, परंतु सत्य से ही अनजान हैं। मेरा मानना है कि सामान्यतया मनुष्य की रुचि सत्य में ही होती है। झूठ को कोई सुनना पसंद नहीं करता। हाँ, यह बात…