Sermon Outlines,  Sermons

Sermon Outline – Good Shepherd and His sheep

Psalm – 23: – Staff and Rod
Characteristics of a shepherd – tend, lead, feed and protect

Jesus called himself the GOOD SHEPHERD – John 10:1-30
Good shepherd:
– knows its sheep – John 10:14a
– calls and leads – John 10:2-4
– gives his life for its sheep – John 10:11, 17-18
– will judge and segregate – Matthew 25:32

We the sheep of the Good Shepherd:
– must hear his voice – John 10:3-5
– knows its shepherd – John 10:14b
– trust in Jesus (eternal hope) – John 10:27-28

अच्छा चरवाहा और उसकी भेड़

भजन संहिता – 23 – लाठी और सोंटा
चरवाहे के गुण – संभालना, अगुवाई करना, चराना (खिलाना / मुहैया करना) और सुरक्षा करना

यीशु ने स्वयं को अच्छा चरवाहा कहा – यूहन्ना 10:1-30
अच्छा चरवाहा:
– अपनी भेड़ों को जानता है – यूहन्ना 10:14a
– बुलाता है और अगवाई करता है – यूहन्ना 10:2-4
– भेड़ के लिये अपना प्राण देता है – यूहन्ना 10:11, 17-18
– न्याय कर भेड़ और बकरी को अलग करता है – मत्ती 25:32

हम परमेश्वर की भेड़ों को:
– उसकी आवाज़ को सुनना चाहिये – यूहन्ना 10:3-5
– अपने चरवाहे को पहचानना चाहिये – यूहन्ना 10:14b
– यीशु (अच्छा चरवाहा) पर भरोसा रखना चाहिये (अनंत आशा) – यूहन्ना 10:27-28